जीवन मंत्र स्वास्थ्य

धूम्रपान से होने वाले नुकसान

धूम्रपान से होने वाले नुकसान 

dhumrpan-ke-nuksan

बीडी  पीना या  सिगरेट / धूम्रपान करना स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा हानिकारक होता  है । धूम्रपान करने से घातक कैंसर के साथ -साथ और भी बहुत से रोगों के  होने की सम्भावना बहुत ही ज्याद बढ़ जाती है। तंबाकू के अंदर  चार हजार से अधिक और  और सिगरेट के अंदर  40 से ज्यादा काफी  नुकसानदायक रसायन होते हैं जो कैंसर जैसे रोगों की मख्य वजह  बनते हैं। इससे फेफड़ों का और  मुँह के  कैंसर  होने की ज्यादा संभावना होती हैं |
धूम्रपान करने  से हृदय के  रोग, मोतियाबिंद, बहरापन, पेट और हड्डियों के रोग, चेहरे में असमय झुर्रियां इत्यादी  गंभीर समस्याएँ उत्पन्न होती है ।
धूम्रपान करने से शरीर के अंदर  रक्‍त का प्रवाह भी धीमा पढ़ जाता है। जिसके कारण व्यक्ति को शारीरिक संबंध बनाने में भी समस्या होने लगती है | धूम्रपान करने से  नपुंसकता का भी खतरा बड़ जाता है ।

एक अनुमान के अनुसार विश्व भर में हर वर्ष लगभग 60 लाख से ज्यादा लोग धूम्रपान और तम्बाकू का सेवन करने से मर जाते  हैं।
रोजाना 20 से ज्यादा  सिगरेट पीने वालों को हार्ट अटैक का खतरा 10 गुना, 10 से 20 सिगरेट पीने को हार्ट अटैक का खतरा 5 गुना और 5 से कम सिगरेट पीने से यह खतरा 3 गुना तक बढ़ जाता है।
देखा जाय तो  एक सिगरेट भी हमारी जिंदगी के 1० से 11  मिनट कम कर देती हैं | धूम्रपान  का केवल सेवन करने वाला ही नहीं बल्कि उसका पूरा परिवार भी इसके दुष्प्रभावो से प्रभावित होता है ।धूम्रपान के तमाम खतरों और  चेतावनियों के बाद भी लोग इस लत को नहीं छोड़ पाते है, धूम्रपान करने वालाब्यक्ति जब  डिब्‍बी से सिगरेट निकालते समय उस पर  चेतावनी और बने हुए  चित्र को जब  देखता है तब उसके मन में में सिगरेट को  छोड़ने का विचार जरुर आ सकता हैं किन्तु उस ब्यक्ति की लत उसके विचारो पर भरी पड़ती हैं इस तरह वह ब्यक्ति धूम्रपान की लत को छोड़ नहीं पता हैं |
आज के समय में धूम्रपान की आदत छोड़ना एक बहुत बड़ी चुनौती के सामान हैं  जिससे निपटने के लिएउस  व्यक्ति के अंदर  दृढ़ इच्छा शक्ति होनी चाहिए  ।
आज के समय में अनेको तरीके हैं जिसके  द्वारा धूम्रपान को छोड़ा जा सकता हैं। हम यहाँ आप सभी को ऐसे ही कुछ तरीके बता रहे हैं जिसे अपना कर आसानी से धूम्रपान को छोड़ा जा सकता हैं |

धूम्रपान कैसे छोड़े

Leave a Comment